Top 10 Moral Stories in Hindi _ Moral Stories For Kids in Hindi

Top 10 Moral Stories in Hindi _ Moral Stories For Kids in Hindi

1. A Man with a Lamp

moral stories for kids in hindi : एक समय की बात है, एक छोटे से गांव में एक आदमी अकेले रहता था। वह देख नहीं सकता था। वह अंधा था। फिर भी, जब भी रात्रि में बाहर जाता, वह साथ में एक प्रकाशित दिया लेकर जाता था।

एक रात, जब वह बाहर रात्रि भोजन के बाद घर जा रहा था, उसने एक युवा यात्री समूह का सामना किया। उन्होंने देखा कि वह अंधा है, लेकिन उसने एक प्रकाशित दिया साथ में लिया हुआ था। उन्होंने उस पर टिप्पणियाँ करनी शुरू की और मजाक किया। उनमें से एक ने उससे पूछा, “अरे आदम! तुम अंधे हो और कुछ दिखाई नहीं देता! फिर भी तुम दिया क्यों लेकर घूमते हो?!”

अंधा आदम ने जवाब दिया, “हाँ, दुखद है, मैं अंधा हूं और मैं कुछ नहीं देख सकता, लेकिन जो प्रकाशित दिया मैं साथ लेकर जा रहा हूं, वह उन लोगों के लिए है जैसे आप जैसे लोग, जो देख सकते हैं। शायद आप अंधे आदम को नहीं देख पाएंगे और मुझे धकेल देंगे। इसीलिए मैं प्रकाशित दिया लेकर चलता हूं।”

यात्री समूह ने अपने व्यवहार के लिए खेद प्रकट किया और माफी मांगी।

Themoralstories : हमें दूसरों का निर्णय करने से पहले सोचना चाहिए। Top 10 Moral Stories in Hindi हमेशा विनम्र रहें और दूसरों के दृष्टिकोण से चीजों को देखने का सिखें।

Best Story : The Pig and The Sheep | Moral Stories in Hindi

Frequently Asked Questions (FAQs)

Q1: कहानी में कौनसा संदेश दिया गया है?

moral stories for kids in hindi : Answer: कहानी में यह संदेश है कि हमें दूसरों का मूल्यांकन करने से पहले सोचना चाहिए और हमेशा उनके दृष्टिकोण से चीजों को देखना चाहिए।

Q2: अंधे आदम ने रात्रि में प्रकाशित दिया क्यों लिया?

Answer: अंधे आदम ने रात्रि में प्रकाशित दिया साथ लिया था क्योंकि वह जानता था कि उसकी तरह देखने वाले लोग उसे देख सकते हैं और वे अंधे आदम को नहीं देख पाएंगे, जिससे उन्हें धकेला सकते हैं।

Q3: कैसे यात्री समूह ने प्रतिक्रिया दिखाई?

Answer: यात्री समूह ने अपने अच्छे व्यवहार के लिए खेद प्रकट किया और अपने व्यवहार के लिए माफी मांगी।

Q4: कहानी का मुख्य संदेश क्या है?

Answer: कहानी का मुख्य संदेश है कि हमें दूसरों की जज्बातों को समझने की कोशिश करनी चाहिए और सदैव विनम्र और समझदारी से व्यवहार करना चाहिए।

Q5: इस कहानी को हम किस प्रकार से अपने जीवन में लागू कर सकते हैं?

Answer: हमें इस कहानी से यह सिखने को मिलता है कि हमें लोगों के बारे में मन में नकारात्मक ख़यालात से पहले उनके पक्ष में सोचने की कोशिश करनी चाहिए और व्यवहार में विनम्रता और समझदारी दिखानी चाहिए।

2. One who read the future

moral stories for childrens in hindi : बहुत पुराने समय में एक आदमी था जिन्हें विश्वास था कि वह तारों में भविष्य पढ़ सकता है। उसने खुद को एक ज्योतिषी कहकर रखा और रात्रि में आकाश की ओर देखते रहता था। वह हमेशा भविष्य की चिंता में रहता था और गांववाले अक्सर उसके पास आते थे, उम्मीद से कि उन्हें यह पता चले कि उनका भविष्य कैसा होगा।

एक शाम, वह गांव के बाहर खुली सड़क पर चल रहा था। उसकी नजरें तारों पर थीं। उसने लगता है कि वह वहाँ देखता है कि दुनिया का अंत नजदीक है। वह भविष्य के बारे में अपनी सोच में खो गया था। जैसे ही उसने तारों की ओर देखना शुरू किया, बिना नीचे देखे वह चलता रहा। अचानक, उसने एक गादे में गिर गया जिसमें गंदे पानी और मिट्टी थी।

वह गंदे पानी में डूब रहा था और हलके पनीरे की ओर अपनी पंखों से चिढ़ने की कोशिश कर रहा था ताकि वह बाहर निकल सके। उसे बाहर नहीं निकल सकने का डर था और उसने मदहोशी में मदद के लिए चिल्लाने लगा। उसकी मदद के लिए उसकी चीखें जल्दी ही गांववालों को दौड़ने पर मजबूर कर दी।

जैसे ही उन्होंने उसे मिट्टी से बाहर निकाला, उनमें से एक ने कहा, “तुम तारों में भविष्य पढ़ने का दिखावा करते हो, और तुम्हें यह नहीं दिखता कि तुम्हारे पास क्या है तेरे पैरों के नीचे! यह तुम्हें सिखाएगा कि तुम्हें उसे देखने की अधिक ध्यान देना चाहिए जो सीधे तुम्हारे सामने है, और भविष्य अपने आप का ध्यान रखने दो।” moral stories for kids in hindi

“एक और बात,” किसी ने कहा, “तारे पढ़ने में क्या फ़ायदा, जब तुम यह देख नहीं सकते कि धरती पर क्या है?”

Themoralstories : हम सभी चाहते हैं कि हमारा भविष्य उज्ज्वल और खुशियों से भरा हो, लेकिन समय किसी के लिए रुकता नहीं है। प्रत्येक कल आज में बदल जाता है, आपका वर्तमान भी आपके भविष्य का हिस्सा है। हमेशा एक कल की आशा और सुधार की दिशा में आगे बढ़ने की आशा होती है, लेकिन आप कल को वापस नहीं जा सकते। इसलिए, अपने वर्तमान जीवन का संतुलन बनाए रखें जब आप एक बेहतर कल की ओर काम करते हैं।

Best Story: The Shepherd Boy And The Wolf Story in Hindi

Frequently Asked Questions (FAQs) One who read the future

कहानी में क्या संदेश दिया गया है?

moral stories for childrens in hindi : कहानी में यह संदेश दिया गया है कि हमें अपने वातावरण में होने वाली चीजों पर ध्यान देने की आवश्यकता है और भविष्य की चिंता करने की बजाय वर्तमान के साथ सही रूप से पेश आना चाहिए।

ज्योतिषी आदमी ने क्यों प्रकाशित दिया लिया?

ज्योतिषी आदमी ने रात्रि में आकाश की ओर देखने का धारण किया था कि वह तारों में भविष्य पढ़ सकता है।

आदमी ने गादे में क्यों गिर गया?

आदमी अपनी ध्यानधारणा में खो गया था और तारों की ओर देखते हुए बिना नीचे देखे चल रहा था, जिसके कारण उसने एक गादे में गिर गया जो मिट्टी और पानी से भरा था।

गांववालों की प्रतिक्रिया क्या थी?

गांववालों ने आदमी को गंदे पानी से बाहर निकाला और उन्होंने उसे उसकी अच्छी तरह से देखने की महत्वपूर्णता पर चर्चा की।

कहानी से हम क्या सिख सकते हैं?

हम सीख सकते हैं कि हमें अपने प्रतिस्पर्धाओं के बीच भी वर्तमान की दिशा में ध्यान देना चाहिए और हमेशा वर्तमान के साथ सही रूप से बदलाव करने का प्रयास करना चाहिए।

3. The Kite without a thread

एक बार एक पिता और उनका बेटा उड़ान भरने के त्योहार पर गए। छोटे बेटे को रंगीन पतंगों से भरी हुई आसमान देखकर बहुत खुशी हुई। उसने अपने पिता से भी पतंग और एक धागे वाले रोलर की मांग की ताकि वह भी पतंग उड़ा सके। इस पर पिता त्योहार के आयोजन के पार्क में एक दुकान पर गए जहाँ वह पतंग और धागे की एक रोल खरीदे।

उनका बेटा पतंग उड़ाने लगा। जल्द ही, उसकी पतंग आसमान में ऊंची ऊंची उड़ रही थी। कुछ समय बाद, बेटा ने कहा, “पिताजी, ऐसा लगता है कि धागा पतंग को ऊँचे उड़ने से रोक रहा है, अगर हम इसे काट दें, तो वह स्वतंत्र हो जाएगी और और भी ऊँचे उड़ेगी। क्या हम इसे काट सकते हैं?” इस पर पिता ने उस रोलर से धागा काट दिया। पतंग थोड़ी और ऊँची उड़ने लगी। बेटे को इससे बड़ी खुशी हुई।

लेकिन धीरे-धीरे, पतंग नीचे आने लगी। moral stories for childrens in hindi और जल्द ही, वह एक अज्ञात इमारत की छत पर गिर गई। छोटे बेटे को यह देखकर हैरानी हुई। उसने तो पतंग के धागे को काट दिया था ताकि वह और ऊँची उड़ सके, लेकिन बजाय उड़ने के, वह नीचे गिर गई। उसने अपने पिता से पूछा, “पिताजी, मैंने सोचा था कि धागा काटने के बाद पतंग स्वतंत्रता से ऊँची उड़ सकेगी। लेकिन उसने तो नीचे गिर जाने दी। ऐसा क्यों हुआ?”

पिता ने समझाया, “पुत्र, जीवन की ऊँचाइयों में हम अक्सर सोचते हैं कि हम कुछ ऐसे बंधे हुए हैं जो हमें और भी ऊँचे जाने से रोक रहे हैं। धागा पतंग को ऊँचे उड़ने से नहीं रोक रहा था, बल्कि जब हवा धीमी होती थी तो यह उसे ऊँचे उड़ने में मदद कर रहा था और जब हवा तेज होती थी, तो यह धागा उसे सही दिशा में ऊँचे उड़ने में मदद कर रहा था। और हमने धागे को काट दिया तो पतंग बिना धागे की सहायता के नीचे गिर गई।”

छोटे बेटे को उसकी गलती का अहसास हो गया।

Themoralstories : कभी-कभी हम महसूस करते हैं कि हम अगर अपने परिवार, अपने घर से बंधे न होते तो हम जल्दी से आगे बढ़ सकते हैं और नई ऊँचाइयों तक पहुँच सकते हैं। moral stories for kids in hindi लेकिन, हम यह समझने में असमर्थ हो जाते हैं कि हमारा परिवार, हमारे प्रियजन हमें हमारे जीवन के कठिन समयों में उनकी सहायता से बचाते हैं और हमें हमारे जीवन की ऊँचाइयों तक पहुँचने के लिए प्रोत्साहित करते हैं। वे हमें नहीं बंधते, बल्कि हमें सहारा देते हैं। कभी उन्हें छोड़कर न जाएँ।

Best Story: Best Friend Story | Story of Two Best Friends

Frequently Asked Questions (FAQs) The Kite without a thread

कहानी में क्या सिख है?

कहानी से हम यह सिखते हैं कि हमारे परिवार और प्रियजन हमारे जीवन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं और हमें उनके सहारे से हमारी सामर्थ्य को ऊँचाइयों तक पहुँचाने में मदद मिलती है।

छोटे बेटे ने क्यों सोचा कि पतंग के धागे को काटने से वह और ऊँची उड़ सकेगी?

छोटे बेटे को लगा कि पतंग का धागा उसकी ऊँचाइयों को रोक रहा है और अगर वह उसे काट देता है, तो पतंग और ऊँची उड़ सकेगी।

पिता ने पतंग के धागे को काट दिया तो क्या हुआ?

पिता ने पतंग के धागे को काट दिया तो पतंग थोड़ी और ऊँची उड़ने लगी, लेकिन धीरे-धीरे वह नीचे आने लगी और अंत में एक अज्ञात इमारत की छत पर गिर गई।

पिता ने बेटे को समझाया कि काटे गए धागे का महत्व क्या था?

हां, पिता ने बेटे को समझाया कि धागे का महत्व यह था कि जब हवा धीमी होती थी तो वह पतंग को ऊँचे उड़ने में मदद करता था और जब हवा तेज होती थी, तो धागा पतंग को सही दिशा में ऊँचे उड़ने में मदद करता था।

कहानी का मोरल क्या है?

कहानी का मोरल यह है कि हमारे परिवार और प्रियजन हमें नई ऊँचाइयों तक पहुँचने में सहायता करते हैं और हमें कठिन समयों में उनका साथ देने से हमारी मदद करते हैं। वे हमें नहीं बंधते, बल्कि हमें सहारा देते हैं। कभी उन्हें छोड़कर नहीं जाना चाहिए।

4. Choose Your Words Wisely

एक समय की बात है, एक बूढ़ा आदमी ने अफवाहें फैलाई कि उसके पड़ोसी एक चोर हैं। इस पर परिणामस्वरूप, उस युवक को गिरफ्तार कर लिया गया। कुछ दिनों बाद, युवक की निर्दोषता साबित हो गई। रिहा होने के बाद, युवक अपने घर की ओर चलते समय अपमानित महसूस करता है। moral stories for childrens in hindi उसने बूढ़े आदमी को गलत आरोप लगाने के लिए मुकदमा दायर किया।

अदालत में, बूढ़ा आदमी ने जज से कहा, “यह सिर्फ टिप्पणियाँ थीं, किसी को नुकसान नहीं पहुँचाया..” जज, मुकदमे पर फैसला सुनाने से पहले, बूढ़े आदमी से कहते हैं, “आपने उसके बारे में जो कुछ कहा था, वो सभी चीजें एक कागज पर लिखें। उन्हें काट डालें और घर जाते समय, उन टुकड़ों को बाहर फेंक दें। कल, सजा सुनने के लिए वापस आएं।”

अगले दिन, जज बूढ़े आदमी से कहते हैं, “सजा प्राप्त करने से पहले, आपको बाहर जाना होगा और उन सभी कागज के टुकड़ों को इकट्ठा करना होगा जिन्हें आपने कल फेंक दिया था।” बूढ़ा आदमी ने कहा, “मैं ऐसा नहीं कर सकता! हवा ने उन्हें फैला दिया होगा और मुझे पता नहीं कहाँ ढूँढ़ना होगा।”

जज फिर उसका उत्तर देते हैं, “वैसे ही, साधारण टिप्पणियाँ भी किसी के मान सम्मान को इतना नष्ट कर सकती हैं कि उसको ठीक करने में असमर्थ हो जाए। बूढ़े आदमी ने अपनी गलती का अहसास किया और माफी मांगी।”

Themoralstories : बिना तथ्य या सच्चाई के जाने किसी को दोषारोपित या आरोपित न करें। आपके शब्द किसी के मान-सम्मान को उनकी कोई गलती न होने के बावजूद बर्बाद कर सकते हैं।

Best Story: Moral Stories in Hindi | The King and Macaw Parrots

Frequently Asked Questions (FAQs) Choose Your Words Wisel

कहानी का मुख्य संदेश क्या है?

कहानी से हमें यह सिखने को मिलता है कि हमें बिना सच्चाई और तथ्यों को जाने किसी पर आरोप लगाने से पहले सोच-समझकर काम करना चाहिए। हमारे शब्द बिना जानकारी के किसी की मान-सम्मान को बिगाड़ सकते हैं।

क्या वास्तविकता में युवक चोर था?

नहीं, वास्तविकता में युवक निर्दोष था, लेकिन बूढ़े आदमी ने उस पर गलत आरोप लगाए थे।

युवक ने बूढ़े आदमी पर कैसे कानूनी कदम उठाए?

युवक ने बूढ़े आदमी पर कैसे कानूनी कदम उठाए कहानी में बताया नहीं गया है, लेकिन संभावतः वह उसे न्यायालय में मुकदमा दायर करके उसकी गलत आरोपना के खिलाफ लड़ सकता है।

बूढ़े आदमी को कौनसी सजा मिली?

कहानी में बूढ़े आदमी को कोई सजा नहीं मिली, लेकिन जज ने उसे उसकी गलती का अहसास दिलाने के लिए उसे कागज के टुकड़े जुटाने का काम दिया।

5. Sometimes Just let it be

moral stories for kids in hindi : एक बार बुद्ध अपने कुछ अनुयायियों के साथ एक शहर से दूसरे शहर जा रहे थे। यह पहले दिनों की बात थी। जब वे यात्रा कर रहे थे, उन्हें एक झील पार करनी पड़ी। वे वहां रुके और बुद्ध ने अपने एक शिष्य से कहा, “मुझे प्यास लगी है। कृपया वहां उस झील से पानी लाओ।”

शिष्य झील की ओर बढ़ गया। जब उसने झील तक पहुँचा, तो उसने देखा कि कुछ लोग पानी में कपड़े धो रहे थे और उसी समय, झील की किनारे एक बैलगाड़ी जल पार होने लगी। इसके परिणामस्वरूप, पानी बहुत गंदा और गाढ़ा हो गया। शिष्य ने सोचा, “मैं बुद्ध को इस गंदे पानी को कैसे पीने के लिए दे सकता हूँ?!” इसलिए वह वापस आकर बुद्ध को बताया, “वहां का पानी बहुत गंदा है। मुझे लगता है कि इसे पीने के लिए उपयुक्त नहीं है।”

तब बुद्ध ने कहा, “चलो, हम यहां वृक्ष के नीचे थोड़ी देर आराम करते हैं।” आधे घंटे के बाद, फिर से बुद्ध ने उसी शिष्य से कहा कि वह झील जाकर उसे पानी लाए। शिष्य आदरपूर्वक झील की ओर चला गया। moral stories for kids in hindi इस बार उसने देखा कि झील में पूरी तरह से साफ पानी है। गंदगी बैठ गई थी और उसके ऊपर का पानी पीने लायक लग रहा था। इसलिए उसने एक मटके में कुछ पानी इकट्ठा किया और बुद्ध के पास लेकर गया।

बुद्ध ने पानी की ओर देखा, और फिर उसने शिष्य की ओर देखकर कहा, “देखो, तुमने पानी को रहने दिया और गंदगी बैठ गई। तुम्हारे बिना किसी प्रयास के, एक साफ पानी मिल गया।”

Themoralstories : तुम्हारा मन भी उसी तरह है। जब यह बेचैन हो जाए, तो उसे रहने दो। थोड़ी सी समय दें। वह खुद बैठ जाएगा। तुम्हें उसे शांत करने के लिए किसी प्रयास की आवश्यकता नहीं है। हम जब शांत रहते हैं, तो हम अपने जीवन के सर्वोत्तम निर्णय ले सकते हैं।

Best Story: Moral Stories in Hindi For Class 10 _ A limit of your Kindness

Frequently Asked Questions (FAQs) Sometimes Just let it be

क्या इस कहानी का कोई विशेष संदेश है?

हां, इस कहानी का संदेश है कि जैसे झील के पानी को खुद रहने देने से गंदगी बैठ जाती है, वैसे ही हमारे मन को भी शांत रहने देने से वह स्वतः ही शांत हो जाता है। हमें अपने जीवन में शांति बनाए रखने के लिए किसी प्रयास की आवश्यकता नहीं होती है।

क्या शिष्य ने बुद्ध की परामर्श नहीं माना?

शिष्य ने पहली बार जब झील से गंदा पानी लाया, तब उसने अपने आत्मा के विचार किए थे कि यह गंदा पानी बुद्ध को कैसे पीने दिया जा सकता है। बुद्ध ने इस परामर्श को समझाया कि अपने मन को शांत रखने के लिए समय देने से सब सही हो जाता है।

क्या इस कहानी में हमें क्या सिखने को मिलता है?

इस कहानी से हमें यह सिखने को मिलता है कि जब हमारा मन बेचैन हो जाता है, तो हमें उसे रहने देना चाहिए। थोड़ी देर में मन स्वतः ही शांत हो जाता है और हम बेहतर निर्णय लेने में सक्षम होते हैं। moral stories for kids in hindi

क्या इस कहानी का उपयोग हमारे दैनिक जीवन में कैसे किया जा सकता है?

हम इस कहानी से यह सिख सकते हैं कि हमें जब भी तनावित होते हैं, तो हमें थोड़ी देर के लिए शांति देनी चाहिए। जब मन शांत रहता है, तो हम सोच-समझकर बेहतर निर्णय ले सकते हैं और जीवन को अधिक सकारात्मक बना सकते हैं।

vinodswain.1993@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Moral Stories in Hindi For Class 9 The Story of Tenali Raman in Hindi A Thirsty Crow Story moral | प्यासी कौवे की कहानी Greed is Bad Short Story in English Short Story in English