Tenali Rama Story in Hindi | तेनाली राम और व्यापारीT

Tenali Rama Story in Hindi | तेनाली राम और व्यापारीT

Tenali Rama Story in Hindi

Tenali Rama Story in Hindi : राजा कृष्णदेवराया को घोड़े प्रेम था और उनके अखाड़े में कुछ बेहतरीन नस्ल के घोड़े थे। एक बार अरबिया से एक घोड़े के व्यापारी ने कृष्णदेवराया के दरबार में आकर बताया कि उसके पास कुछ बहुत अच्छे नस्ल के अरबियन घोड़े हैं जिनको वह बेचना चाहता है। उसने राजा से इन घोड़ों को देखने के लिए आमंत्रित किया और उसे बताया कि अगर राजा को पसंद आए, तो वह दूसरे घोड़ों को भी भेज देगा।

घोड़े की खरीदी

Tenali Rama Story in Hindi : राजा ने उस घोड़े को पसंद किया और उससे कहा कि उन्हें सभी घोड़े चाहिए। राजा ने उसे अग्रिम रूप से 5000 सोने के सिक्के दिए, और व्यापारी ने वादा किया कि वह खाली हाथ नहीं जाएगा, और दूसरे घोड़ों के साथ 2 दिनों में वापस लौटेगा।

दो दिन बित गए, फिर दो हफ्ते बित गए, लेकिन व्यापारी वापस नहीं आया। राजा बहुत चिंतित हो गए। एक शाम, अपने मन को आराम करने के लिए, उन्होंने बगीचे में सैर करने का निर्णय लिया। वहां उन्होंने तेनाली रामन को कागज पर कुछ लिखते हुए देखा। राजा उनके पास गए और पूछा कि वे क्या लिख रहे हैं। उन्हें कोई जवाब नहीं मिला। Tenali Rama Story in Hindi राजा ने उनसे और पूछताछ की। तब तेनाली ने ऊपर देखा और राजा को बताया कि वे विजयनगर साम्राज्य के सबसे बड़े मूर्खों के नाम लिख रहे हैं। themoralstories

Best Story :- The Little Ginger Bread Man | छोटा जिंजरब्रेड मैन

Tenali Rama Story in Hindi : राजा ने उस पेपर को उनसे ले लिया और देखा कि उसका नाम ऊपर लिखा हुआ था। उन्हें तेनाली से क्रोध आया और व्याख्या के लिए पूछा। तब तेनाली ने कहा कि कोई भी व्यक्ति जो एक अजनबी को 5000 सोने के सिक्के दे देता है, वह मूर्ख है। राजा ने फिर तेनाली से पूछा कि यदि व्यापारी घोड़ों के साथ वापस आता है तो क्या होगा; जिस पर तेनाली ने कहा कि फिर उस मामूली व्यक्ति का भी नाम उस व्यापारी के बदल देंगे। उसके बजाय राजा का नाम लिख देंगे।

Asked Questions (FAQs)

क्या तेनाली राम एक वास्तविक ऐतिहासिक व्यक्ति थे?

हाँ, तेनाली राम एक ऐतिहासिक व्यक्ति थे जो विजयनगर साम्राज्य में राजा कृष्णदेवराय के शासनकाल के दौरान रहते थे।

क्या तेनालीराम ने कोई साहित्यिक रचना लिखी?

हालाँकि तेनाली राम अपनी बुद्धि और कहानी कहने के लिए प्रसिद्ध थे, लेकिन उनके साहित्यिक रचनाएँ लिखने का कोई ठोस सबूत नहीं है। Tenali Rama Story in Hindi

अन्य दरबारियों के साथ तेनालीराम की बातचीत कैसी थी?

तेनाली राम का अन्य दरबारियों के साथ मजाकिया व्यवहार था और उनकी बातचीत अक्सर हास्य और मजाक से भरी रहती थी।

तेनाली राम की कहानियों ने भारतीय संस्कृति को कैसे प्रभावित किया?

तेनाली राम की कहानियाँ भारतीय लोककथाओं का एक अभिन्न अंग बन गई हैं और पीढ़ियों से चली आ रही हैं।

vinodswain.1993@gmail.com

4 thoughts on “Tenali Rama Story in Hindi | तेनाली राम और व्यापारीT

  1. I don’t even know how I ended up here, but I thought this post was good.
    I don’t know who you are but certainly you are going to a famous blogger if you are not already 😉 Cheers!

  2. Great blog you have here but I was curious if you knew of
    any message boards that cover the same topics talked about in this article?
    I’d really like to be a part of online community where I can get responses from
    other experienced people that share the same interest. If
    you have any recommendations, please let me know. Many thanks!

  3. With havin so much content and articles do you ever run into any issues of
    plagorism or copyright violation? My site has a lot of completely unique content I’ve either written myself or outsourced but it appears a lot
    of it is popping it up all over the internet without my permission. Do you know any ways to help reduce content from being ripped off?
    I’d truly appreciate it.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Moral Stories in Hindi For Class 9 The Story of Tenali Raman in Hindi A Thirsty Crow Story moral | प्यासी कौवे की कहानी Greed is Bad Short Story in English Short Story in English